पेट में गैस क्या है अथवा यह कैसे बनता है: लक्षण, कारण और उपाय

पेट में गैस क्या है अथवा यह कैसे होता है

पेट में वायु का होना ही पेट में गैस कहलाता है। जब हम खाते हैं, पीते हैं, बोलते हैं तो हवा की कुछ मात्रा हमारे पेट में जाकर पाचनतंत्र में चली जाती है। साथ ही जो खाद्य पदार्थ एंजाइम्स के द्वारा आसानी से हजम नहीं होते उन्हें बड़ी आंत के जीवाणुओं द्वारा नष्ट किया जाता है और उस समय हमारे पेट में गैस का निर्माण होता है। ऐसे तो यह एक सामान्य बात है एक स्वस्थ व्यक्ति को गैस बहुत ही कम मात्रा में बनती है जो कि डकार आने पर या मलद्वार के रास्ते आसानी से निकल जाती है, परंतु जिन लोगों को पेट संबंधी समस्याएँ होती है, पाचनतंत्र ठीक नहीं होता, ऐसे लोगों के पेट में यह ज्यादा मात्रा में बनने लगती है। इसे उदरवायु भी कहते हैं। ज्यादा गैस बनने से हमें कई प्रकार की समस्याएँ भी हो सकती है।

गैस के लक्षण

खाना खाने के बाद पेट भारी-भारी लगना, ज्यादा डकारें आना, भूख कम लगना, धड़कन तेज लगना, दुर्गंधयुक्त सांसे आना, उल्टी, दस्त, घबड़ाहट, पेट फूलना आदि तरह के लक्षण हो सकते हैं। सरदर्द, कमरदर्द, पेटदर्द और कभी-कभी ज्यादा गैस होने पर सीने में भी दर्द होने लगता है और भूलवश लोग इसे हृदय रोग समझ लेते है।

गैस दूर करने के उपाय

गैस की समस्या होने पर जल्दी ही इसका उपचार शुरू कर देना चाहिए। इसके लिए आप घर पर ही आसानी से घरेलू उपचार कर सकते हैं। सबसे पहले आप यह देखें कि कहीं आपको कब्ज की समस्या तो नहीं है। यदि हाँ, तो पहले आप कब्ज दूर करें इसके लिए अपने भोजन में आसानी से पचने वाली चीजें अपने भोजन में शामिल करें। अंकुरित चने, मूंग आदि का सेवन करें। अगर कब्ज की वजह से आपको गैस बन रही होगी तो कब्ज दूर होने पर काफी हद तक गैस में आराम मिलेगा। साथ ही गैस की समस्या से आपको छुटकारा मिले, इसके लिए आप निम्न घरेलू उपचार कर सकते हैं।

  1.  आधे गिलास पानी में एक चौथाई चम्मच बेकिंग सोडा डालकर पीयें।
  2.  एक चने के बराबर जितनी हींग गर्म पानी के साथ लें।
  3.  एक-एक छोटी चम्मच जीरा, सौंफ और धनियां लेकर उसे रात भर के लिए
  4.  आधे गिलास पानी में भिंगो दे सुबह इसे पीसकर पानी सहित पी लें या अगर आप पीस नहीं पा रहे हैं तो केवल इसका पानी ही पी लें। ऐसा प्रतिदिन करें
  5.  धनिये और पुदीने की पतियों का रस बराबर-बराबर मात्रा में मिलाकर सुबह-सुबह लें।
  6.  एक गिलास पानी में काला नमक डालकर रात भर रख दें और सुबह बिना कुछ खाये पहले इसे पी लें।
  7.  आधा छोटा चम्मच मेथीदाना रोज सुबह पानी के साथ लें। (जिन्हें कब्ज की समस्या हो, न लें।)
  8.  खाना खाने के बाद सौंफ खायें।
  9.  मेथी दाना, हल्दी, हींग और जीरे का पाउडर इन सबको छाछ में डालकर खाना खाने के बाद लें।
  10.  रोज सुबह तुलसी के पाँच-सात पत्ते खायें।
  11.  मूली के रस में हींग और कालीमिर्च मिलाकर पीये।
  12.  आधा चम्मच अजवायन और एक चौथाई काला नमक गर्म पानी के साथ लेने पर भी गैस में आराम मिलता है।

गैस की समस्या दूर करने के लिए कुछ देर सुबह-सुबह व्यायाम भी अवश्य करनी चाहिए। मत्स्यासन, सर्वांगासन, पवनमुक्तासन गैस दूर करने में उपयोगी आसन हैं।

इन चीजों से बचें

मैदे से बनी हुई चीजें जैसे बिस्कुट, बर्गर, ब्रेड, चाउमिन, वनस्पति घी, रिफाइंड, तेल, मक्खन और क्रीम आदि ज्यादा ना खायें। राजमा, उड़द, मटर का कम उपयोग करें। खाली पेट चाय-कॉफी ज्यादा न पीयें। कोल्ड ड्रिंक न पीयें। बहुत से लोगों को गरम दूध पीने से और मूली-खीरे खाने से भी गैस होती है।

अन्य ध्यान देने योग्य बातें

  1.  खाना खूब चबाकर खायें।
  2.  खाने के तुरंत बाद पानी न पीयें।
  3.  दिनभर में कम-से-कम आठ गिलास पानी जरूर पीयें।
  4.  अगर गैस ज्यादा हो तो गर्म (गुनगुना) पानी ही पीयें। इससे निश्चित रूप से लाभ होगा।
  5.  कोई भी व्यायाम या आसन पहले किसी जानकार की निगरानी में अच्छी तरह सीख लें उसके बाद ही करें।
  6.  ध्यान दें कि आपको कौन सी चीज खाने से ज्यादा गैस बन रही है उससे बचें।
  7.  अगर घरेलू उपायों के बावजूद भी आप गैस से काफी परेशान हैं तो डॉक्टर की सलाह लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *