बाईक दुर्घटना से बचने के कुछ आसान टिप्स

वर्तमान समय में बाईक चलाना एक फैशन है। क्या बड़े क्या बच्चे सभी तेजरफ्तार में बाईक चलाकर छोटे-बड़े दुर्घटनाओं का शिकार होकर अपनी जान गँवा रहे है।
कुछ छोटी-मोटी सावधानियों को अपना कर अपनी जान को बचा सकते हैं़। जैसे:-
1 सड़के भले ही चौड़ी हो,किन्तु बाईक हमेशा बाँयी ओर ही चलायें। दाँयी ओर से बड़ी गाड़ियों और स्पीड वाली गाड़ी ही चलती है,भूलकर भी बड़ी गाड़ी को ओवरटेक न करें।
2 बाईक चलाते समय फूल हेलमेट का प्रयोग करें,जिससे आपका सर(माथा या मष्तिक) गला और कान तक सुरक्षित रहें।
3 ट्रैफिक में हमेशा आगे वाली गाड़ी से दूरी बनाये रखें ताकि आगे वाली गाड़ी अगर रूकती है या पीछे हटती है तो आप बगल से अपनी गाड़ी निकाल सकते हैं।
4 गाड़ी चलाते समय बड़ी गाड़ी जैसे- बस,ट्रक आदि को पहले निकल जानें दें। ओवरटेक न करें अन्यथा बड़ी गाड़ी के पीछे के हिस्से से आपको क्षति हो सकती है।
5 बाईक चलाते समय मोबाइल,फूल हेड फोन का उपयोग कदापि न करें । अगर जरुरी हो तो साइड में गाड़ी रोककर बातें करें या ब्लूटूथ का उपयोग करें वह भी एक ही कान में।

 

6 किसी भी चौराहें,स्कूल,मोड़ या भीड़ वाले जगह से गुजरें तो गाड़ी धीरें चलाये।
7 जब गाड़ी सिंग्नल पर खड़ी हो तो सिंग्नल होने पर दो-तीन गाड़ी को आगे निकल जाने दें। खुद आगे निकलने का कोशिश न करें, हो सकता है आपके बगल वाली गाड़ी को बायॉं या दॉया जाना हो।
8 बाईक अगर आपको सामने जाती कार से आगे निकालने हो तो पास-बटन का प्रयोग करें या अगर सीधा रोड दीख रहीे हो तभी आगे निकले। मुड़े हुए सड़क से भूलकर भी आगे न निकलें।
9 सड़क किनारें या पार्क की गई गाड़ियों के बगल से अपनी बाईक न निकालें, हो सकता है खड़ी की गई गाड़ी का दरवाजा आचानक खुल जाए और आप बड़ी दुर्घटना का शिकार हो जायें।
10 बाईक चलाते समय ब्रेक लें तो धीरे-धीरे लें और दोनों ब्रेक लें , अन्यथा आप फिसल कर गिर सकते हैं।
नोटः- अपनी बाईक जब चलाये ंतो चेक कर के ही चलायें और देखें कि आप की गाड़ी का ब्रेक सही है या नहीं। गाड़ी जब भी खरीदें तो पहिये में ग्रीप वाले ही । समय-समय पर गाड़ी को सर्विस करातें रहे।
इन छोटी-छोटी सावधनियों को अपनाकर बड़ी-से-बड़ी दुर्घटना को कम किया जा सकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *